वैश्वीकरण और अंतर्राष्ट्रीयकरण के बीच अंतर क्या है?/What is the difference between Globalisation and Internationalisation? - RAS Junction <meta content='ilazzfxt8goq8uc02gir0if1mr6nv6' name='facebook-domain-verification'/>

RAS Junction

We Believe in Excellence

Friday, May 28, 2021

वैश्वीकरण और अंतर्राष्ट्रीयकरण के बीच अंतर क्या है?/What is the difference between Globalisation and Internationalisation?

वैश्वीकरण और अंतर्राष्ट्रीयकरण के बीच अंतर क्या है?/What is the difference between Globalisation and Internationalisation?

वैश्वीकरण और अंतर्राष्ट्रीयकरण दोनों का तात्पर्य उन प्रक्रियाओं से है जो स्थानीय, राष्ट्रीय और क्षेत्रीय घटनाओं इनके स्तर से परे ले जाने की कोशिश करती हैं।
हालाँकि, दोनों के बीच सूक्ष्म अंतर हैं।
वैश्वीकरण को आमतौर पर एक ऐसी प्रक्रिया के रूप में जाना जाता है जो दुनिया भर में पूंजी (वित्तीय, भौतिक और बौद्धिक) और श्रम के एक देश से दूसरे देश में आवागमन की सुविधा प्रदान करती है। 
यह एक सतत प्रक्रिया है जो मानव सभ्यता जितनी पुरानी है; हालांकि 20 वी शताब्दी में एक अभूतपूर्व तकनीकी क्रांति की वजह से दुनिया बड़े पैमाने पर वैश्वीकरण देख रही है, जो पहले कभी नहीं देखा गया।
एक और जहां वैश्वीकरण की अक्सर आर्थिक दृष्टि से कल्पना की जाती है, अंतर्राष्ट्रीयकरण अक्सर राजनीतिक मुद्दों से जुड़ा होता है। 
यदि वैश्वीकरण को अंतिम लक्ष्य माना जाए तो अंतरराष्ट्रीय करण उसके एक सहायक के रूप में कार्य करता है।
'अंतर्राष्ट्रीयकरण' का एक स्पष्ट राजनीतिक आयाम भी है, जिसका उपयोग मूल्य-तटस्थ और नकारात्मक दोनों अर्थों में किया जाता है। उदाहरण के लिए, जब भारत 'योग' को पूरी दुनिया में ले जाना चाहता है, तो यह मुख्य रूप से स्थानीय/सांस्कृतिक/पारंपरिक अभ्यास का अंतर्राष्ट्रीयकरण करने का एक तटस्थ प्रयास है, लेकिन जब पाकिस्तान 'कश्मीर मुद्दे' का अंतर्राष्ट्रीयकरण करना चाहता है, तो इसका उद्देश्य नकारात्मक होता है, क्योंकि ऐसा करके, यह भारत को नीचे दिखाने का प्रयास करताा है। इस प्रकार इसे किसी विशेष देश के खिलाफ रणनीति के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।




Both globalization and internationalization refer to processes that seek to take local, national and regional events beyond their level.
 However, there are subtle differences between the two.
 Globalization is commonly referred to as a process that facilitates the movement of capital (financial, physical and intellectual) and labor from one country to another around the world.
 It is a continuous process as old as human civilization; However, the world is witnessing massive globalization due to an unprecedented technological revolution in the 20th century, which has never been seen before.
 In another where globalization is often conceived economically, internationalization is often associated with political issues.
 If globalization is to be considered as the ultimate goal, then internationalization acts as an sub process to it.
 There is also a clear political dimension to 'internationalization', which is used in both a value-neutral and negative sense. For example, when India wants to take 'yoga' all over the world, it is mainly a neutral attempt to internationalize local / cultural / traditional practice, but when Pakistan wants to internationalize 'Kashmir issue'  , Then its purpose is negative, because by doing so, it tries to show India down.  Thus it can be used as a strategy against a particular country.

internationalization vs globalization in higher education, internationalization vs globalization ppt, globalization is internationalization essay, difference between globalization and internationalization in education,how internationalization affects globalization, globalization is internationalization discuss, globalization as internationalization and liberalization examples, localization vs globalization 
international relations upsc 2020, international relations upsc 2020 pdf, vision ias international relations notes pdf, international relations upsc, drishti ias international relations upsc notes pdf, international relations upsc prelims, international relations upsc syllabus, international relations notes for upsc pdf 2020 

No comments:

Post a Comment

RAS Mains Paper 1

Pages