पी एच स्केल तथा दैनिक जीवन में इसका महत्व/pH scale and its importance in daily life - RAS Junction <meta content='ilazzfxt8goq8uc02gir0if1mr6nv6' name='facebook-domain-verification'/>

RAS Junction

We Believe in Excellence

Saturday, August 18, 2018

पी एच स्केल तथा दैनिक जीवन में इसका महत्व/pH scale and its importance in daily life

पी एच स्केल तथा दैनिक जीवन में इसका महत्व/pH scale and important of its in daily life/RAS mains paper 2



पी एच स्केल एक मापक स्केल है जिसका उपयोग किसी भी विलयन की अम्लता अथवा क्षारकता को मापने में किया जाता है।

1909 में सोरेनसन नामक वैज्ञानिक ने पी एच स्केल की संकल्पना दी थी।

पीएच में P से तात्पर्य शक्ति तथा H से तात्पर्य हाइड्रोजन की सांद्रता से है।

दूसरे शब्दों में किसी भी विलियन में हाइड्रोजन आयनों की सांद्रता के ऋणात्मक लघुगणक को PH मान कहा जाता है।

पीएच ज्ञात करने के लिए निम्न सूत्र का प्रयोग किया जाता है-
pH = - log10[H+]

शुद्ध जल में हाइड्रोजन आयन की सांद्रता 1*10-7 mol/LTR होती है। अतः शुद्ध जल का ph मान 7 होता है।

पी एच स्केल के मान की परास 0 से 14 होती है।

7 से कम मान वाले विलयन अम्लीय जबकि 7 से अधिक मान वाले विलयन क्षारीय प्रकृति के होते हैं।

महत्वपूर्ण विलियनो का PH मान-


दैनिक जीवन में पीएच का महत्व-

हमारे शरीर में होने वाली जैव रासायनिक क्रियाओं की पीएच परास 7 से लेकर 7.8 तक ही होती है। इसमें थोड़ा भी परिवर्तन हमारे शरीर पर बहुत घातक प्रभाव डालता है।

अम्लीय वर्षा में जल का ph मान 5.6 से कम होता है। इस जल के फल स्वरुप नदियों का PH मान भी कम हो जाता है जो कि जलीय जीवो पर हानिकारक प्रभाव डालता है।

उपजाऊ मिट्टी का पीएच मान भी एक निश्चित परास में होता है जो न तो अधिक अम्लीय तथा न ही अधिक क्षारीय होता है।

विभिन्न प्रकार के मसालेदार भोजन पेट की अम्लता को बढ़ाते हैं जिसकी वजह से एसिडिटी तथा गैस की समस्या होती है। इसे दूर करने के लिए क्षारीय प्रकृति वाले मिल्क ऑफ मैग्नीशिया का प्रयोग किया जाता है।

मधुमक्खी के डंक में मेथेनॉइक अम्ल होता है जोकि अम्लीय प्रकृति का होता है और जलन उत्पन्न करता है। इसे शांत करने के लिए क्षारीय प्रकृति के बेकिंग सोडा का प्रयोग किया जाता है।

दांत का इनामेल कैल्शियम सल्फेट का बना होता है जो कि हमारे शरीर का सबसे कठोर पदार्थ है। दांतों की सफाई नहीं करने पर बैक्टीरिया के सड़ने से अम्लों की उत्पत्ति होती है जिनसे मुंह की लार का पीएच 5.5 से कम चला जाता है और इनामेल को नुकसान पहुंचाता है।


3 comments:

  1. The concentration of hydrogen ion in a sample of soft drink is 4.0*10 power-3 M. what is the pH. (log10 power2=0.301)


    How to answer this type of questions?

    ReplyDelete
  2. this question was asked in RAS Mains 2016.I am from Arts background. how to get good marks?

    ReplyDelete

RAS Mains Paper 1

Pages