भगत व एकी आंदोलन(RAS MAINS PAPER-1 - RAS Junction <meta content='ilazzfxt8goq8uc02gir0if1mr6nv6' name='facebook-domain-verification'/>

RAS Junction

We Believe in Excellence

Tuesday, October 24, 2017

भगत व एकी आंदोलन(RAS MAINS PAPER-1

भगत आंदोलन

  • यह आंदोलन मुख्यतः भील जनजाति के किसानों द्वारा शुरू किया गया था।
  • सरजी भगत व गोविन्द गुरु ने मिलकर इसकी शुरुआत की।
  • 1883 AD में गोविन्द गिरी ने सम्प सभा की स्थापना की जिसका पहला अधिवेशन 1903 AD में मानगढ़ की पहाड़ियों पर हुआ।
  • 1913 में आश्विन शुक्ल पूर्णिमा को मानगढ़ की पहाड़ी पर हो रही बैठक को घेर कर मेवाड़ भील कोर ने गोलियां चलाई जिसमे 1500 से अधिक भील मारे गए।
  • मेवाड़ भील कोर का गठन खैरवाड़ा में 1841AD में किया गया था।
  • आज भी इस स्थान पर आश्विन शुक्ल पूर्णिमा को मेला लगता है।

एकी आंदोलन

  • यह आंदोलन भोमट क्षेत्र के भीलो ने किया था अतः इसे भोमट भील आंदोलन भी कहा जाता है।
  • चित्तोड़गढ़ के मातृकुंडिया नामक स्थान से वैशाख शुक्ल पूर्णिमा को इस आंदोलन की शुरुआत हुई थी।
  • मातृकुंडिया को राजस्थान का हरिद्वार भी कहा जाता है।
  • इस आंदोलन के मुख्य नेता 'मोतीलाल तेजावत' थे जो कि मेवाड़ रियासत के झाड़ोल ठिकाने के कामदार थे।
  • झाड़ोल कोटला व गोगुन्दा से शुरू होकर यह आंदोलन डूंगरपुर बांसवाड़ा में फ़ैल गया था।
  • तेजावत द्वारा मेवाड़ महाराणा को दी गई 21 सूत्री मांगों को मेवाड़ की पुकार कहा जाता है।
  • 1922 में नीमडा गांव में एक सभा पर पुलिस ने फायरिंग कर दी जिसे दूसरा जलियावाला हत्याकांड भी कहा जाता है।
  • तेजावत इसके बाद भूमिगत हो गए लेकिन गांधीजी के कहने पर 1928 में ईडर रियासत में पुलिस के सामने समर्पण किया।
  • 1936 में तेजावत को रिहा कर दिया गया।

No comments:

Post a Comment

RAS Mains Paper 1

Pages